Jain News

सचिन तेरापंथ महिला मंडल ने Happy n Harmonious Family सेमिनार का आयोजन।

प्रवासी एकता न्यूज़:- रोहित चौधरी 9660317316

सचिन, आचार्य महाप्रज्ञ जन्म शताब्दी वर्ष के अवसर पर अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मण्डल के निर्देशानुसार सचिन तेरापंथ महिला मंडल ने Happy n Harmonious Family सेमिनार का आयोजन उपासक की उपस्थिति में रखा गया। “जहाँ डाल डाल पर खुशिया” इस सुंदर व मधुर गीतिका का संगान महिला मंडल की बहनो द्वारा गाया गया। मंगलाचरण महाप्रज्ञ अष्टकम से किया गया। महिला मंडल की अध्यक्षा शशी कोठारी ने सभी आये हुए पदाधिकारी का स्वागत एवं अभिनंदन किया।

उन्होंने साध्वीश्री प्रमुखा कनकप्रभा जी के मंगल संदेश का वाचन किया। समाज में, परिवार में, “सुखी परिवार-समृद्ध राष्ट्र” का संदेश घर – घर पहुंचे। संस्कार निर्माण की प्रथम पाठशाला है और ऐसी प्रयोगशाला का नाम परिवार है इस बारे में बताया। हमारी महिला मंडल की पूर्व अध्यक्षा सीमा मेहता ने कहा कि वाणी से परिवार टुट जाते है और जोड़े भी जा सकते हैं। परिवार में भी सहनशीलता हो तो सुखी परिवार की संकल्पना हो सकती हैं। सेमिनार में उपासक प्रकाश धाकड़ ने मुक्तक द्वारा परिवार की परिभाषा समझायी अपने वक्तव्य में कहा कि –परिवार में सबकी खुशी, आवश्यकता का पूर्ति का ध्यान रखें।

हमें दुसरों को बदलने के बजाय स्वयं को बदलने की आवश्यकता हैं। वरिष्ठ उपासक सुभाष चपलोत ने क्रोध जब हावी होता है तो हमारी सारी शक्ति उस में लग जाती है और जब क्रोध शांत होता हे तब हमें गलती महसूस होती है। उपासक बाबूलाल बाफना ने एक कहानी के द्वारा युग और परिवार का उदाहरण देते हुए कहा कि – सभी का साथ रहें तो हम परिवार को सुखी बना सकते हैं। अणुव्रत समिति के अध्यक्ष राजमल काल्या ने घड़ियाल का उदाहरण दिया।

और कहा कि घड़ियाल के काटो की तरह हमारा परिवार हे और इसमें कोई छोटा कोई बड़ा हे इस हिसाब से हमे परिवार में एकजुट होकर रहना चाहिए। आशा मेहता ने भी परिवार में मिलजुलकर कैसे रहे ये विचारों की प्रस्तुति दी। पूर्ण कार्यक्रम का सूत्र संचालन मंत्री रिंकु मुणोत ने किया और आभार ज्ञापन मोनिका हिरण ने किया। मंगलपाठ से कार्यक्रम का समापन हुआ। इस कार्यक्रम की जानकारी श्रीमती शशि कोठारी ने दी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close